October 27, 2020
Phone: +91-0565-2471178 (O)

Gandhi Jayanti

उत्तर प्रदेश पंडित दीन दयाल उपाध्याय पशुचिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय एवं गो-अनुसन्धान संस्थान, मथुरा में आज अहिंसा का मंत्र सिखाने वाले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 151वीं जयंती के अवसर पर उनके योगदान को याद किया गया है। महात्मा गांधी जी एक महान नेता के साथ साथ एक समाज सुधारक भी थे। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के अवसर पर डॉ0 पी के शुक्ला (अधिष्ठाता एवं रजिस्ट्रार), डॉ0 विकास पाठक, अधिष्ठाता छात्र कल्याण विकास व विश्वविद्यालय के अन्य गणमान्य व्यक्तियों द्वारा माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित किए व इस असाधारण व्यक्तित्वों को याद किया गया। डॉ0 पी के शुक्ला (अधिष्ठाता एवं रजिस्ट्रार) ने सभा को संबोधित करते हुए देश की दो महान विभूतियों को उनकी जयंती पर नमन किया ओर कहा, कि महात्मा गांधी जी के देश की आजादी में अभूतपूर्व योगदान को कोई नहीं भुला सकता है। साथ ही आज ‘जय जवान, जय किसान’ का नारा देने वाले हमारे पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती वर उनको भी नमन किया गया । डॉ0 शुक्ला ने महात्मा गांधी जी के विचार ”किसी राष्ट्र की महानता और उसकी नैतिक प्रगति का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उसके जानवरों के साथ कैसा व्यवहार किया जाता है” को अपनाने के लिए पशुचिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय के प्रत्येक व्यक्ति से आग्रह किया। गांधीजी को न केवल भारत में बल्कि पूरे विश्व में याद किया जाता है। वह सभी मानवता के लिए प्रेरणा का स्रोत बने हुए हैं। अंत में उन्होंने सरकार के कार्यक्रमों जैसे की, ‘‘स्वच्छ भारत मिशन, महिलाओं के सशक्तिकरण, गरीबों और दलितों को सशक्त बनाने और गांवों में आवश्यक सुविधाएं प्रदान करने‘‘ के पीछे राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के आदर्श को प्रेरणा स्रोत बताते हुए विश्वविद्यालय के प्रत्येक व्यक्ति से आग्रह किया कि वे समाज और राष्ट्र की प्रगति के लिए हमेशा तत्पर रहें ।